आप हाथी नहीं इंसान हैं !

Posted on by

Motivational Hindi Story

 आप हाथी नहीं इंसान हैं !

एक आदमी कहीं से गुजर रहा था, तभी उसने सड़क के किनारे बंधे हाथियों को देखा, और अचानक रुक गया. उसने देखा कि हाथियों के अगले पैर में एक रस्सी बंधी हुई है, उसे इस बात का बड़ा अचरज हुआ की हाथी जैसे विशालकाय जीव लोहे की जंजीरों की जगह बस एक छोटी सी रस्सी से बंधे हुए हैं!!! ये स्पष्ठ था कि हाथी जब चाहते तब अपने बंधन तोड़ कर कहीं भी जा सकते थे, पर किसी वजह से वो ऐसा नहीं कर रहे थे.

उसने पास खड़े महावत से पूछा कि भला ये हाथी किस प्रकार इतनी शांति से खड़े हैं और भागने का प्रयास नही कर रहे हैं ?

तब महावत ने कहा, ” इन हाथियों को छोटे पर से ही इन रस्सियों से बाँधा जाता है, उस समय इनके पास इतनी शक्ति नहीं होती की इस बंधन को तोड़ सकें. बार-बार प्रयास करने पर भी रस्सी ना तोड़ पाने के कारण उन्हें धीरे-धीरे यकीन होता जाता है कि वो इन रस्सियों को नहीं तोड़ सकते,और बड़े होने पर भी उनका ये यकीन बना रहता है, इसलिए वो कभी इसे तोड़ने का प्रयास ही नहीं करते.”

आदमी आश्चर्य में पड़ गया कि ये ताकतवर जानवर सिर्फ इसलिए अपना बंधन नहीं तोड़ सकते क्योंकि वो इस बात में यकीन करते हैं!!

इन हाथियों की तरह ही हममें से कितने लोग सिर्फ पहले मिली असफलता के कारण ये मान बैठते हैं कि अब हमसे ये काम हो ही नहीं सकता और अपनी ही बनायीं हुई मानसिक जंजीरों में जकड़े-जकड़े पूरा जीवन गुजार देते हैं.

याद रखिये असफलता जीवन का एक हिस्सा है ,और निरंतर प्रयास करने से ही सफलता मिलती है. यदि आप भी ऐसे किसी बंधन में बंधें हैं जो आपको अपने सपने सच करने से रोक रहा है तो उसे तोड़ डालिए….. आप हाथी नहीं इंसान हैं.

————————————–

Note: The inspirational story shared here is not my original creation, I have read and heard  it several times and I am just providing the Hindi version of the same.

यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है:achhikhabar@gmail.com.पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!

61 thoughts on “आप हाथी नहीं इंसान हैं !

  1. sakshi

    Thankyou Publisher & AKC. This story is full inspirational &recreation of mind.Thankful AKC for spreading positivity & Thankyou publisher for written this motivational story.

    Reply
  2. Amit singh

    Aap haathi nahi insaan hai. Isase hame yahi sandesha milta hai ki hame apni soch par koi bandhan nahi rakhna chaahiye. Ye insaan hi hai jo chaand tak pahuch gayaa hai. Bas kosis karne ko der hai. Aap jo chaahe wo kar sakte hai.

    Reply
  3. NISHANT SENAPATI

    YADI KOI VAIKTI 1000 BAR BHI ASAFAL KYO NA HO JAY BHIR BHI USE APNA MANOBAL KAM NAHI KARNA CHAHIYE OR 1 BAAR BHIR SE KOSHISH KAR K DEKNA CHHIYE ……….

    Reply
  4. Vivek ray

    Verry nice…..tell me sirji ..i want to download this types of videos ..tell me the websites please

    Reply
  5. Pradeepkumar

    These are the best motivational stories,one can learn really a lot of it and this is best use of internet…thanks for all those who have posted stories

    Reply
  6. suraj Raj

    thank U Sir friends jindgi me unsuccess se daro nahi Q k yahi unsuccess apko ek din success k us mukam tak pahunchayg

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>